Inspirational Poems - Contribute Rhyming, Non Rhyming Poems

 

 

About contentwriter | Contact Us

Useful Articles

More Poems

Short Stories

Hire Our Writing Services

Know More About Our Services

Contact Us contact@contentwriter.in

Advertise With Us

Search Content Writer India 

 

 

Kaishorya

कैशौर्य --- ओंम प्रकाश नौटियाल

नन्ही सी उम्र में वर्ष वर्ष जोड़ कर
पहुंचे हो आज तुम वय के इस मोड़ पर,
असमंजस में स्वयं को ढूंढ़ते खड़े हो
तुम न अब छोटे हो, न ठीक से बड़े हो ।

कैशौर्य में विचरते हो , यौवन के पास हो
सबके अजीज हो तुम सबके ख़ास हो ,
तनाव में कभी, कभी उलझन में लगते हों
मित्रों की पर अपने,सभी बातों पे हँसते हो ।

अनुभव , तर्क की बातें अनमने से सुनते हो
अधपकी समझ से वितर्कों के जाल बुनते हो ,
इस उम्र में होता है यह, न तुम्हारा कुसूर है
हमको प्यार है तुमसे हमें तुम पर गुरूर है ।

भविष्य में छुपी उज्जवल खुशियाँ अपार हैं
श्रम करते रहो मन से तो अवसर हज़ार हैं ,
समय को मान देना ही सफलता की कुंजी है
तुम्हारे साथ हमारे प्यार, दुवाओं की पूंजी है ।

Contributed By: I am O.P.Nautiyal Ex-Gen.Manager (E&T), ONGC, presently engaged in academic and literary activities at Vadodara, Gujarat. ompnautiyal@yahoo.com  opnautiyal.blogspot.com

   

Web Content Writing Services, India | Contribute Your English & Hindi Poems

Sitemap

Home


Copyright contentwriter.in , contact@contentwriter.in